रिश्ते बनाये रखने के लिए टिप्स – Relationship Tips in Hindi

Tips for Good Relationship in Hindi


पूरी दुनिया में 50% लोग अपनी शादी से खुश नही है। इनमें वो सभी शामिल है जिनका एक या दो बार divorce हो चुका हो, जिनके husband या wife का extra marital affair चल रहा है या फिर जो सिर्फ अपने बच्चों की वजह से साथ में है। Read Relationship Tips in Hindi

17081294019333444272

Tips for Good Relationship in Hindi

(Rishto ko Sudharne ke Liye Tips)

क्या होता है जब हम किसी को बहुत ज्यादा like करने लगते है? हमे सब कुछ बहुत अच्छा लगने लगता है। सारे दुःख दर्द मिट जाते है। ये दुनिया हसीन लगने लगती है और सिर्फ हम में से कई लोगो को लाल झंडा दिखता है… extreme गुस्से की छोटी सोच की एक झलक, characterless की एक झलक पर हम सब कुछ ignore करने लग जाते है। First thought जो हमारे दिमाग में आता है वो ये कि शायद… हमने कुछ गलत किया होगा, शायद हमसे कोई गलती हुई होगी, लड़कियों को ये ज्यादा लगता है- अगर कोई उन्हें cheat कर रहा है तो उनका खुद का दिमाग कचरा बन जाता है। इस कचरे में सब कुछ शामिल है- मैं गोरी नही हूँ, मैं थोड़ी मोटी हूँ, मैं उतनी सुंदर नही हूँ। मेरी education बहुत अच्छी नही है। मेरी job high profile नही है, so basically- I deserve less. मुझे ज्यादा अच्छा मिलना ही नही चाहिए। मैं खुद क्या हूँ जो मुझे बहुत अच्छा मिले।

हम हमेशा अपने आप को मानते रहते है की सब कुछ सही है। हम अपने आपको ये बोलते है कि हर relationship में work तो करना ही पड़ता है.. जो सही भी है.. पर हम इसे गलत तरीके से ले लेते है। प्यार या ये प्यार वाली feeling हमे इतना अँधा बना देती है कि हम अपनी ही family से जो हमे सबसे ज्यादा जानती है उससे दूर रहने लगते है और झगड़ते रहते है। हम अपने friends और family से दूर हो जाते है। क्योकि हमे लगता है कि वो हमे हमेशा ज्ञान बाटते रहते है। हम 20-30 साल पुराने रिश्ते से दूर हो जाते है और उस इंसान के हो जाते है जो हमे सिर्फ कुछ हफ़्तों या महीने पहले मिला है।

But eventually जैसे जैसे time बीतता जाता है हमे ये realization होता है कि हम गलत थे और वो सब सही थे। हम इस पूरी situation से नफरत करने लग जाते है, अपने आप से नफरत करने लग जाते है, हम इतने hopeless हो जाते है कि हमे लगता है कि क्या हमे कभी कोई सही partner मिलेगा भी?

सबसे ज्यादा बेवकूफी कि बात यह है कि हम इस साइकिल को फिर से repeat करते है। हम फिर से एक गलत relationship में पड़ते है और हम पूरी तरह टूट जाते है। पर हम ऐसा क्यों करते है?

ऐसा हमारे brain… हमारे दिमाग कि वजह से होता है। हमारे दिमाग का जो past addiction को control करता है वही past love… प्यार को control करता है। हमे ये अच्छा लगता है कोई हमे प्यार करता है… हमे चाहता है भले ही वो इंसान हमारे लिए गलत क्यों न हो। भले ही हमे ये मालूम क्यों ना हो कि वो इंसान हमारे लिए गलत है। ये बिल्कुल drug या alcohol के नशे कि तरह है। हमें मालूम है की नुकसान ही नुकसान है पर drugs की तरह एक लत है। हम गलत लोगो को चुनते है और फिर उन्हें हमारे हिसाब से change करने की कोशिश करते है। हम शेर को चारा खिलाने की कोशिश करते है और खरगोश को मरा हुआ जानवर। जब शेर चारा नही खा पाता तो हम अंदर ही अंदर दुखी होते है।

हम कैसे सही लोगो को अपने लिए चुने?

जब भी लोग date पर जाते है या कहीं किसी से मिलते है तो वो मन ही मन ये hope कर रहे होते है की सामने वाला उन्हें like करे।

इसमें सही तरीका क्या होना चाहिए?

आपको ये hope करनी चाहिए कि आप सामने वाले को like करे आपको सामने वाले का assessment करना है कि क्या उसमे वो सब है जो आपको चाहिए? क्या सामने वाला आपको deserve करता है? क्या वो आपके लिए सही है? अगर आपका पूरा ध्यान सिर्फ इस चीज पर है कि सामने वाला आपको like करे, तो आप अपने आपको को इस तरह से represent करेंगे जो आप है ही नही, ऐसी mental state है कि आप सही decision ले ही नही सकते है। जब आप desperate होते है तो सामने वाले की आप हर वो चीज बता देते है जो आपको चाहिए। अगर सामने वालो को आप चाहिए तो कुछ दिनों, महीनों के लिए वो वैसा बन जाता है जैसा आपको चाहिए।

ये वो दो लोग है जो कुछ और होने की acting कर रहे है। जो देर सवेर असली इंसान बन कर एक दूसरे के सामने जरूर आयेंगे और फिर एक दूसरे को handle ही नही कर पायेंगे, क्योकि उनकी expecting ही कुछ और थी। ऐसी relationship कितने time तक चल सकती है। See we have to be really bold in knowing कि हमे क्या चाहिए। हमे जिद करनी है उस चीज के लिए जो हमारे लिए सबसे ज्यादा important है।

क्या आपके लिए freedom और independence बहुत matter करती है? तो फिर आपको एक ऐसा partner चाहिए जो broad minded हो।

कुछ लड़कियां कहती है कि हम उस लड़के के बारे में सोच ही नही सकते जो थोड़ी भी drink करता है। या जिसने कभी drink की हो। Well, ज्यादातर लड़के drink करते है या फिर उन्होंने कभी ना कभी कुछ लिया है। I mean, is that really important- क्या ये सच में इतना मायने रखता है? मतलब अगर कोई बिल्कुल ही काम नही करता वो समझ में आता है।

इन चीजो में हमे दिमाग से काम लेना है और सोचना है की सबसे ज्यादा किसी relationship में क्या important है? क्या होगा अगर हम अपने partner में honesty की जिद करे। क्या सामने वाला हमसे हमेशा सच बोलता है? सच बोलना ज्यादा important है या कभी drink नही करना ऐसी situation से आपको वही लोग बचा सकते है जो आपको सबसे ज्यादा जानते हो यानि आपके friends या family.

एक और बात, हमे अपने prospect को अपने best friend या family से मिलना है।

जब हम किसी को चाहने लगते है तो उसकी हर कमी को नजरअंदाज करके उसकी अच्छाइयों के बारे में ही सोचते रहते है। But हमारे friends या family हमारे prospect के साथ in love या dying to be in love वाली stage में नही होते है। वो situation और इंसान को भांपने की mentality में होते है और वो ही है जो हमे सही राय दे सकते है। अपने friend अपनी family पर trust करना सीखे क्योकि वो सही judgement करने की condition में होते है।

आपकी family हमेशा आपके लिए सही ही चाहेगी बस कुछ पाने के लिए desperate होना छोड़ दे। ये सोचना छोड़ दे की आपकी family आपसे jealous है या फिर अगर उनकी relationship ही सही नही रही तो वो आपको क्या राय देंगे? उनकी सुने। वो आपको प्यार करते है। True love is possible बस ना कहने और भाग जाने से डरे नही।

जाने क्यों करे अपने शरीर को पसंद

आत्मविश्वास बढ़ाने के तरीके Confidence Tips in Hindi

मित्रता पर महान लोगों के विचार

Image Source

You may also like

0 comments

Leave a Reply