होम रेमेडीज घरेलु इलाज Home remedies gharelu ilaj hindi

Remedies from Kitchen Ingredients in Hindi

आपकी रसोईघर ही आपका प्राथमिक चिकित्सालय है। रसोई की साफ़ सफाई महत्त्वपूर्ण है। हम सबके घरो की रसोई में हल्दी, जीरा, इलायची, लौंग, काली मिर्च, लहसुन, मेथी, अदरक, प्याज, अजवायन, राई, धनिया, बादाम, किशमिश, गुड, अंजीर, दूध, दही, शहद, हरी साग-सब्जी मिल जाती है। शरीर को शक्कर भी चाहिए और नमक भी। Read Home remedies gharelu ilaj hindi

सर्दी, खांसी, जुकाम, पेट दर्द, पेट के कीडे, दांत दर्द, हल्का बुखार से हम सभी कभी ना कभी पीड़ित हैं। इन सब समस्याओं के लिए हॉस्पिटल भागने की जरूरत नहीं, अपने घर में ही आप अपना कर सकते है। आइये जानते है रसोई घर में उपलब्ध सामग्री और उनके प्रयोग से होने वाले फायदों के बारे में।

 

Remedies from Kitchen Ingredients in Hindi

Home remedies gharelu ilaj hindi

1. लौंग-इलायची (Clove – Cardamon)

लौंग-इलायची मुख दुर्गंध से निजात दिलाने में लाजवाब हैं। तेज सिर दर्द होने पर लौंग के पाउडर को थोडा पानी मिलाकर माथे पर लगाएं। सिर दर्द कम हो जाएगा। लौंग पाउडर से दांतों की मालिश करने से दांत का दर्द धुर हो जायेगा। खासी हो जाने पर लौंग को हल्का भून लें और चूसते रहें। फोड़े फुंसी पर लौंग-हल्दी पीसकर लगाने से फायदा मिलेगा।

2. हल्दी (Turmeric)

हल्दी गुणों की खान है। यह एक प्राकृतिक एंटीबायोटिक है । हल्दी को नमक और थोडा सा सरसों के तेल में मिलाकर मसूडों पर मालिश करने से पायरिया एवं मुख दुर्गंध से निजात मिलता है। रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर प्रतिदिन पिएं। इससे हड्डियां मजबूत रहेंगी।

3. जीरा (Cumin Seeds)

जीरा मसालों की शान है। दस्त, पेट में मरोड हो रही हो तो जीरा भून कर पीसकर दही, लस्सी, छाछ के साथ ले। जीरा और सौंफ को सामान मात्र में ले कर भूनें, फिर पीस कर पानी के साथ दिन में दो बार लें। पेट में मरोड शांत हो जाएगी।

4. धनिया (Coriander)

अगर आपको पेशाब ठीक से नहीं आ रहा हो, दस्त में खून आए आ रहा हो तो घबराएं नहीं। धनिया पाउडर पानी में पकाएं, एक चौथाई पानी रह जाने पर उसे छानकर बोतल में भर लें। शहद के साथ इसका रोज़ सेवन करें। शरीर में अनावश्यक गर्मी शांत करने के लिए ठंडे पानी के साथ एक चम्मच धनिया पाउडर का सेवन करें। पेशाब ठीक आएगा, एसिडिटी नहीं होगी। और अनावश्यक कामवासना भी शांत हो जाएगी।

5. कालीमिर्च (Blackpepper)

खासी से छुटकारा पाने के लिए रात में सोने से पहले कालीमिर्च मुंह में रखकर चूसते रहें। इससे सर्दी, खांसी, गले की खर्राश से छुटकारा पायेंगे और नींद भी अच्छी आएगी। चाय की जगह काली मिर्च और अदरक पीसकर काढा बनाएं और उसका सेवन करें।

6. मेथीदाना (Fenugreek Seeds)

डायबिटीज के रोगियों के लिए मेथीदाना फायदेमंद होता है। रात को एक कप पानी में मेथीदाना भिगो दें। सुबह मेथीदानों को चबाकर खाएं और उस पानी को पी लें। हृदय रोग में मेथीदाना फायदेमंद होता है। मेथी, सौंठ हल्दी को बराबर मात्रा में ले, पाउडर बना लें। 1 चम्मच सुबह 1 चम्मच शाम को गर्म पानी या दूध से लें। इससे जोडों का दर्द व सभी तरह के वातरोग एवं सूजन में फायदा मिलेगा।

7. अजवाइन और राई (Celery and mustard)

सिरदर्द होने पर राई को पीसकर माथे पर लेप लगाएं, आराम मिलेगा। शराब से छुटकारा पाने के लिए आधा Kg अजवाइन को ४ लीटर पानी में उबालें जब तक पानी की मात्रा आधा ना रह जाये। भोजन से पूर्व प्रतिदिन पिएं। अजवायन को हल्का भुन कर पीस ले। फिर इसे सुबह-शाम गर्म पानी में मिलाकर पी ले। इससे सर्दी, जुकाम एवं पेट के रोगों से छुटकारा मिलेगा।

आशा है आपको ये पोस्ट Home remedies gharelu ilaj hindi काम आया।

Image Source

घरेलु नुस्खे के लाभ – Home Remedies in Hindi

घरेलु तरीको से करे Corns का इलाज Home Remedies For Foot Corns In Hindi

You may also like

Remedies in Hindi

Benefits Of Ice In Hindi

Ways to Increase Hunger in Hindi

Remedies For Nausea In Hindi

Remedies For Burns In Hindi

Ear cleaning Tips in Hindi

Tips For Avoiding Tiredness In Hindi

Home Remedies in Hindi

Potato To Reduce Weight In Hindi

How to Improve Blood Platelets in Hindi

Kitchen Tips in Hindi

Antibiotics For Bacterial Infection In Hindi

Tips To Fight With Diseases In Hindi

Remedies For Oral Ulcer In Hindi

Remedies for Minor Problems in Hindi

Health Benefits Of Dry Fruits In Hindi

Bad Effects of Microwave Cooked Food in Hindi

Heath Benefits of Carom Seeds in Hindi

Hot Weather Prevention Tips in Hindi

Benefits Of Drinking Clay Pot Water In Hindi

Vastu Tips for Home in Hindi