घरेलु नुस्खे

Home Remedies in Hindi खाने के साथ सलाद प्याज का उपयोग स्वाद और सेहत दोनों के फायदे देता है। Gharelu Nuskhe Dadi maa ke Nuskhe

वैसे तो गुड़ खाना आपके स्वास्थ्य और पाचन के लिए काफी लाभदायक होता है, लेकिन सर्दियों के मौसम में गुड़ खाने के अलग ही फायदे होते हैं। सर्दी के दिनों में गुड़ आपके लिए हर तरह से फायदेमंद होता है। जानिए सर्दियों में गुड़ खाने के बेहतरीन फायदे।  Read Gud Ke Fayde in Hindi

Benefits of Jaggery in Winters in Hindi

Benefits of Jaggery in Winters in Hindi

(Gud ke Fayde in Hindi)

 

  • गुड़ की तासीर गर्म होती है, इसलिए सर्दियों के दिनों में इसका सेवन आपको गर्माहट देता है। सर्दियों के मौसम में प्रति‍दिन सेवन आपको सर्दी, खांसी और जुकाम से भी बचाता है।

 

  • आम तौर पर सर्दियों के दिनों में रक्तसंचार (blood circulation) बहुत धीमा हो जाता है। लेकिन गुड़ का नि‍यमित सेवन करना रक्तसंचार (blood circulation) को बेहतर बनाए रखने में मदद करता है। साथ ही ब्लड प्रेशर की समस्याओं में भी फायदेमंद होता है।

 

  • इन दिनों में गले और फेफड़ों में संक्रमण (infection) बहुत जल्दी फैलता है। इससे बचने के लिए भी गुड़ का सेवन बहुत मदद कर सकता है। सर्दी और संक्रमण (infection) की दवाईयों में गुड़ का प्रयोग किया जाता है।

 

  • पाचन संबंधी समस्याओं (digestion problem) के इलाज में भी गुड़ का सेवन बहुत लाभकारी होता है। खाना खाने के बाद थोड़ा सा गुड़ खाना पाचन को और भी बेहतर बनाता है।

 

  • गुड़ मैग्नीशियम (magnesium) का एक बेहीतरीन स्रोत (source) है। गुड़ खाने से मांसपेशियों, नसों और रक्त वाहिकाओं को थकान से राहत मिलती है। गुड़ खून की कमी दूर करने में भी बेहद मददगार साबित होता है।
Image Source

ये पढ़े

निम्बू के बेहतरीन फायदे

लौंग के बेहतरीन उपयोग

क्या करे क्या ना करे भोजनोपरांत

 

हमको आशा है के आपको हमारा ये पोस्ट Gud ke Fayde in Hindi पसंद आया।
अपनी प्रतिक्रिया हमतक पोहुंचाय ।
धन्यवाद ।

सूखे मेवों में शामिल किशमिश (raisin) के स्वाद और गुणों के बारे में तो आप जानते ही होंगे, लेकिन क्या आपने कभी किशमिश (raisin) के पानी के बारे में सुना है…… किशमिश का पानी स्वास्थ्य के लिए बड़े काम की चीज है। आइये जानते है किशमिश के पानी के यह 5 लाभ। Read Benefits of Raisin Water in Hindi (Kishmish Ke Pani ke Fayde).

 Benefits of Raisin Water in Hindi

Benefits of Raisin Water in Hindi

(Kishmish Ke Pani ke Fayde)

किशमिश (raisin) को पानी में 20 मिनट के लिए हल्की आंच पर उबल ले। इस पानी को रातभर रखकर सुबह पीना बेहद फायदेमंद होता है। आप इसे एक बार आजमाकर इसके आश्चर्यजनक फायदे पा सकते है।

 

  • रोजाना सुबह के समय किशमिश (raisin) के पानी को पीना, कई तरह के फायदे देता है। कुछ दिनों तक इसका नियमित सेवन करने से आपको कब्ज, एसिडि‍टी और थकान से बिल्कुल निजात मिल सकता है। जी, हां यकीन न हो, तो आजमाकर देखे।
  • प्रतिदिन किशमिश (raisin) का पानी पीना उन लोगों के लिए बेहद फायदेमंद है, जो अधि‍क Cholesterol Level के कारण स्वास्थ्य समस्या का सामना करते हैं। यह शरीर में ट्राईग्लिसेराइड्स (Triglyceride) के स्तर को कम करने में मददगार है।
  • इसमें Flavonoid antioxidant भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो त्वचा पर हो रही झुर्रियों को तेजी से कम करने में सहायता करता है। यह बढ़ती उम्र के निशान को कम करता है और आपको जवां दिखने में मदद करता है।
  • कब्ज (constipation) या पाचन संबंधी समस्याओं (digestion problems) से निपटने के लिए किशमिश का पानी बेहद लाभदायक पेय है। यह पाचन (digestion) को बेहतर बनाता है और अमाशय रस (Gastric juices) को बनने में मदद करता है।
  • प्रतिदि‍न किशमिश (raisin) के पानी का सेवन करना लिवर को स्वस्थ्य बनाए रखने और उसे सुचारू रूप से कार्य करने के लिए प्रेरित करता है। साथ ही यह आपके मेटाबॉलिज्म (metabolism) के स्तर को नियंत्रित करने में भी सहायक है।

    स्वास्थ लाभ के लिए इस्तेमाल करे स्टार फल

Image Source

 

हमको आशा है के आपको हमारा ये पोस्ट Kishmish Ke Pani ke Fayde in Hindiपसंद आया।
अपनी प्रतिक्रिया हमतक पोहुंचाय ।
धन्यवाद ।

Health Benefits of Sesame in Hindi

घर पर व्यंजनों और खास तौर पर मकर संक्रांति पर चिक्की बनाने में उपयोग किए जाने वाला तिल तिल्ली, कई प्रकार से अपने खास गुणों के कारण फायदेमंद है। यह हर तरह से आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में बेहद लाभदायक है। आइये जानते है तिल केकुछ बेहतरीन फायदे। Read Health Benefits of Sesame in Hindi (Til ke Fayde in Hindi).

 

Health Benefits of Sesame in Hindi

(Til ke Fayde in hindi)

  • तिल का नियमित प्रयोग मानसिक दुर्बलता कम करता है, जिससे आप तनाव, depression से मुक्त रहते हैं। प्रतिदिन थोड़ी मात्रा में तिल का सेवन करने से आप मानसिक समस्याओं से निजात पा सकते हैं।
  • बालों के लिए तिल का प्रयोग वरदान साबित हो सकता है। तिल के तेल का प्रयोग या रोज थोड़ी मात्रा में तिल को खाने से, बालों का झड़ना बंद हो जाता है।
  • चेहरे पर निखार के लिए भी तिल का उपयोग किया जाता है। तिल को दूध में भिगोकर उसका paste चेहरे पर लगाने से चेहरे पर प्राकृतिक चमक आती है और रंग भी निखरता है। तिल के तेल की मालिश करने से भी त्वचा कांतिमय (Patinated) हो जाती है।
  • तिल को कूटकर खाने से कब्ज (constipation) की समस्या नहीं होती। काले तिल को चबाकर खाने के बाद ठंडा पानी पीने से बवासीर (piles) में लाभ होता है। इससे पुराना बवासीर (piles) भी ठीक हो जाता है।
  • शरीर के किसी भी अंग की त्वचा जल जाने पर, घी और कपूर के साथ तिल को पीसकर लगाने से आराम मिलता है और घाव भी जल्दी ठीक होता है।
  • सूखी खांसी हो जाने पर तिल को मिश्री व पानी के साथ सेवन करने से काफी लाभ मिलता है। लहसुन के साथ तिल के तेल को गर्म करके, गुनगुने रूप में ही कान में डालने से कान के दर्द में आराम मिलता है।
  • सर्दियों के दिनों में तिल का सेवन करने से शरीर में उर्जा का संचार होता है और इसके तेल की मालिश से दर्द में राहत मिलती है।
  • तिल, दांतों के लिए भी फायदेमंद होता है। सुबह शाम brush करने के बाद तिल को चबाने से दांत मजबूत होते हैं और यह calcium की आपूर्ति भी करता है।
  • फटी एड़ि‍यों पर तिल का तेल गर्म करके, उसमें सेंधा नमक और मोम मिलाकर लगाने से एड़ि‍यां जल्दी ठीक होने लगती है और साथ ही साथ ये एड़ियो को नरम और मुलायम भी बनाता है।
  • मुंह में छाले हो जाने पर, तिल के तेल में सेंधा नमक मिलाकर लगाने पर छाले जल्दी ठीक होने लगते हैं।
Image Source

 शतावरी के फायदे जो आप नहीं जानते होंगे

पवित्र तुलसी के अनेक फायदे

सफ़ेद मूसली के हेल्थ के लिए फायदे

 

हमको आशा है के आपको हमारा ये पोस्ट Til ke Fayde in hindi पसंद आया।
अपनी प्रतिक्रिया हमतक पोहुंचाय ।
धन्यवाद ।

Morning Banana, यानि की सुबह के नाश्ते में केले और गर्म पानी को शामिल कर आप बेहतरीन फायदे पा सकते हैं। केले के साथ एक कप गर्म पानी का प्रयोग न केवल मोटापे को घटाता है बल्कि आपको सही आकार देने में बेहद मददगार साबित होता है। Read गर्म पानी से मोटापा करें कम Garm Pani Pine Ke Fayde

Banana and Warm Water for Weight Loss in Hindi

Banana and Warm Water for Weight Loss in Hindi

(Vajan Kam Karne ke Liye Kela aur Garam Pani)

यकीन मानिए starch और healthy carbohydrate के भरपूर यह diet दिनभर में शरीर पर चढ़ने वाले मोटापे को कम करने में आपकी सहायता करेगा। सुबह के नाश्ते में केले के साथ गर्म पानी का सेवन करने से आपका पेट काफी देर तक भरा रहेगा और उर्जा का स्तर भी बना रहेगा।

Morning banana पर किए गए अध्ययनों में इसके बेहतरीन फायदों को बताया गया है। जब हम इसका सेवन करना शुरू करते हैं तो सुबह के समय केला और गर्म पानी का यह नाश्ता लेना सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद साबित होता है।

केला न केवल metabolism को बढ़ाने में मदद करता है, बल्कि पाचन तंत्र को बेहतर कर पाचनक्रिया को सुधारने में भी सहायक है। इसके अलावा यह एक प्रकार के starch से भरपूर होता है, जिसमें Glycemic index की मात्रा बेहद कम होती है। साथ ही इसमें मौजूद fiber कब्ज (constipation) की समस्या से निजात दिलाता है और संतुष्ट‍ि देने के साथ ही carbohydrate के अतिरिक्त अवशोषण को रोकता है।

गर्म पानी के साथ केले का प्रयोग न केवल भरपूर ऊर्जा देगा बल्कि शरीर को hydrate कर oxygen का स्तर भी बढ़ाएगा। इसके बाद आप काफी तरोताजा महसूस करेंगे, वह अलग। ना तो इसमें आपको अतिरिक्त sugar लेनी होगी और ना ही अतिरिक्त calory, लेकिन इससे आप भरपूर ऊर्जा और सेहत भी पा सकते हैं। तो हुआ ना यह एक बेहतरीन नाश्ता (breakfast)।  तो आप कब शुरू कर रहे हैं, Morning Banana?

Image Source

राइट डाइट प्लान वजन घटाने के लिए

फ़ास्ट फ़ूड के साथ कैलोरीज कम करे

आपका हमारा रसोईघर ही है प्राथमिक चिकित्सालय

 

हमको आशा है के आपको हमारा ये पोस्ट Garam Pani Pine ke Fayde in Hindi पसंद आया।
अपनी प्रतिक्रिया हमतक पोहुंचाय ।
धन्यवाद ।

Ear cleaning Tips in Hindi

कान में मैल जमना कोई असामान्य बात नहीं है। हम सभी के साथ ऐसा होता है और समय-समय पर कान की सफाई करना भी बेहद जरूरी है। सही सफाई न होने पर कान में दर्द, खुजली, जलन या बहरापन जैसी समस्याएं हो सकती है। आइये जानते है कि कैसे की जाए कान की सफाई। Read Kaan dard ka ilaj Ear pain treatment in hindi

        Kaan dard ka ilaj Ear pain treatment in hind

Ear pain ka ilaj

 

गरम पानी (Warm Water for Ear Pain in Hindi)

पानी को हल्का-सा गुनगुना करें और रूई की सहायता से कान के अंदर डालें। कुछ समय तक इसे कान में ऐसे ही रहने दें और कुछ सेकंड बाद इसे कान से उलटकर पानी को बाहर निकाल दें। यह कान की सफाई का सबसे आसान तरीका है।

हाइड्रोजन पराक्साइड (Hydrogen Peroxide for Ear Pain in Hindi)

बेहद कम मात्रा में हाइड्रोजन पराक्साइड (hydrogen peroxide) को पानी में घोलकर, कान में डालें। अब बचे हुए घोल को कान को उलटकर कान से बाहर निकाल दें। यह तरीका कान की सफाई के लिए काफी प्रयोग में लिया जाता है।

तेल (Oil for Ear Pain in Hindi)

मूंगफली, जैतून या सरसों के तेल में थोड़ा सा लहसुन डालकर तड़का लें। अब तेल का गुनगुना गरम रह जाने पर रूई की सहायता से कान में डालें और ढंक लें। ऐसा करने से कान का मैल असानी से बाहर आ जाता है।

प्याज का रस (Onion Juice for Ear Pain in Hindi)

प्याज को भाप में पकाकर या भूनकर, इसका रस निकाल लें। अब  इस प्याज के रस की कुछ बुँदे droper या रूई की सहायता से कान के अंदर डालें। इससे कान में जमा मैल आसानी से बाहर आ जाएगा।

नमक का पानी (Salt for Ear Pain in Hindi)

गरम पानी में नमक मिलाकर इसका घोल तैयार करें। अब इस घोल की कुछ बूंदे रूई की सहायता से कान में डालें और बाद में कान को उलटकर बाहर निकाल लें। लेकिन ध्यान रहे कि कान में दर्द या कोई खरोंच व घाव होने पर यह तरीका न अपनाएं।

 

आशा है आपको ये पोस्ट Kaan dard ka ilaj Ear pain treatment in hindi पसंद आया. अपने comments हमें ज़रूर दे

 

किशमिश और दूध का Heart Tonic!!

Nose Bleeding के लिए इन उपचारो को भी अपनाए

नाक बंद हो जाए, तो यह तरीके आजमाएं

नाक से खून बहने पर करें यह घरेलू उपचार

Remedies for Insomnia in Hindi

आज कल की बदलती जीवनशैली के चलते नींद न आने की समस्या बहुत आम हो गयी है, जो हमारे सेहत के साथ-साथ पूरी जिंदगी को प्रभावित करती है। इसके इलाज के लिए कई तरह के बदलाव के साथ-साथ लोग लाखों रूपए खर्च कर देते हैं, लेकिन फिर भी नतीजा कुछ नहीं निकलता है। अगर आप भी उन लोगों में से हैं, तो यह लेख आपके लिए ही है। Read Insomnia neend na ane ke gharelu upay home remedies

 

Remedies for Insomnia in Hindi

(Neend Na Ane ka Upchar) neend na aane ke tips in hindi

Insomnia neend na ane ke gharelu upay homeremedies

सामान्यत: बहुत से लोग इस बात को नहीं जानते है, कि आपके कमरे में आने वाली वायु की गुणवत्ता, आपकी नींद और उससे जुड़े सेहत के अन्य पहलुओं को बहुत  प्रभावित करती है। वायु के साथ उसमें मौजूद कण कई तरह की समस्याओं का कारण हो सकते हैं। इसलिए घर में ताजातरीन वायु का होना बहुत जरूरी है। घर के अंदर रखे कुछ पौधे इन समस्याओं को दूर करने में आपकी मदद करेंगे।

टिंडौरी बेल (Tindori Bel for Insomnia in Hindi)

सब्जी के रूप में प्रयोग की जाने वाली टिंडौरी का पौधा (बेल) सबसे बेहतर वायु शोधक के रूप में जाना जाता है। शोध के अनुसार यह वायु को 94 % तक शुद्ध करने का काम करता है। यह खास तौर से रात के समय अस्थमा या सांस संबंधी समस्याओं में काफी लाभदायक होता है और आरामदायक नींद के लिए यह बेहतरीन है।

एलोवेरा (Aloevera for Insomnia in Hindi)

एलोवेरा यानि ग्वारपाठे का पौधा घर में रखना केवल नींद के लिए ही नहीं बल्कि सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद है। एलोवेरा रात के समय oxygen का निष्कासन करता है जिसका सकारात्मक असर सेहत पर भी नजर आता है। यह अनिद्रा (sleeplessness) की बीमारी से बचाता है और बेहतर गुणवत्ता वाली नींद भी देता है।

चमेली (Jasmine for Insomnia in Hindi)

इस आकर्षक और खुशबूदार पौधे को घर में लगाने के अनगिनत फायदे हैं। यह न केवल आपके तनाव और बेचैनी को कम करता है बल्कि आपको बेहतरीन नींद भी देता है। यही नहीं, बेहतर नींद लेने के बाद आप खुद को तरोताज़ा, कफी सक्रिय और सतर्क भी महसूस करते हैं। मानसिक रोग होने की स्थि‍ति में यह बेमि‍साल साबित होता है।

Also Read  हमे नींद की जरूरत क्यों होती है

लैवेंडर (Lavender for Insomnia in Hindi)

अब तक आपने lavender oil या इससे जुड़े अन्य फायदों के बारे में सुना होगा, लेकिन इस पौधे को घर में लगाने के बाद आपको इसके कई फायदे मिल सकते हैं। यह वातावरण के साथ-साथ आपके मूड को भी सकारात्मक बनाए रखता है। इसके अलावा यह बेचैनी और तनाव को भी कम करता है, साथ ही बेहतर और आरामदायक नींद लेने में मदद करता है। रात में सोते समय बच्चों का रोना भी इससे कम होगा।

स्नेक प्लांट (Sarpgandha for Insomnia in Hindi)

यह पौधा केवल आपके घर की सजावट को बढ़ाने के लिए ही नहीं, बल्कि यह आपको बेहतर नींद भी देता है। यह वायु की शुद्धता को बनाए रखने के साथ साथ वातावरण को बेहतर बनाए रखने में मदद करता है।

यह पौधा सांस संबंधी तकलीफ, आंखों में होने वाली असहजता और सिरदर्द की समस्या को कम करने में मदद करता है और आपको सक्रिय बनाता है। अच्छी नींद ले कर वजन कम करे

Image Source

अच्छी नींद के लिए गरम दूध है फायदेमंद

आइये जानते है नींद लाने के सरल उपाय

निद्रा-विचरण (Sleep Walking) को रोकने की घरेलू चिकित्सा

घरेलु नुस्खे के लाभ – Home Remedies in Hindi

घरेलु नुस्खों से करे वजन कम

 

हमको आशा है के आपको हमारा ये पोस्ट Insomnia neend na ane ke gharelu upay homeremedies पसंद आया।
अपनी प्रतिक्रिया हमतक पोहुंचाय ।
धन्यवाद ।

Arthritis Patients Ke Liye Diet in Hindi

सेहत और सुंदरता के लिहाज से हल्दी (turmeric) के कई फायदे हैं और anti-biotic के रूप में भी हल्दी (turmeric) का इसतेमाल किया जाता है। लेकिन सभी के लिए हल्दी (turmeric) उतनी ही फायदेमंद हो यह जरूरी नहीं है। कुछ स्थि‍तियों में हल्दी (turmeric) का प्रयोग बेहद खतरनाक भी साबित हो सकता है। जानिए किन स्थतियों में हमें नहीं करना चाहिए हल्दी (turmeric) का प्रयोग। Read Haldi in Hindi

Turmeric Side Effects in Hindi

(Haldi in Hindi)

गर्भावस्था ( Pregnancy – Haldi in Hindi)

गर्भावस्था में या फिर शि‍शु होने के बाद तक महिलाओं के लिए हल्दी (turmeric) का प्रयोग हानिकारक साबित हो सकता है। हल्दी (turmeric) को मासि‍क धर्म में रूकावट या महिलाओं की अन्य समस्याओं में काफी सहायक माना जाता है, जो गर्भाशय (uterus) को उत्तेजित या सक्रिय करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। हल्दी (turmeric) का प्रयोग टेस्टोस्टेरॉन (testosterone) के स्तर को कम करने में भी सहायक है। नॉर्मल डिलीवरी के लिए टिप्स

पथरी (Avoid Haldi in Kidney Stone in Hindi)

यदि आपको पित्ताशय (gallbladder) में पथरी है तो हल्दी (turmeric) का उपयोग करना अति‍रिक्त दर्द भी पैदा कर सकता है। इसलिए पित्ताशय (gallbladder) में पथरी होने पर भोजन में हल्दी (turmeric) का इस्तेमाल कम ही करें और दर्द से दूर रहें।

शुक्राणुओं में कमी (Avoid Haldi in Low Sperm Count in Hindi)

पुरुषों में हल्दी (turmeric) का अधि‍क प्रयोग शुक्राणुओं (sperm) में कमी लाने का कार्य करता है। ऐसे में यदि आप family planning की योजना बना रहे हैं, तो हल्दी (turmeric) का ज्यादा प्रयोग न करें। पुरूषों की फर्टिलिटी बढ़ाने वाले आहार

डाइबिटीज (Avoid Haldi in Diabetes)

हल्दी (turmeric) का प्रयोग शर्करा (glucose) के स्तर को कम करने का कार्य करता है। जिससे रोगी रक्त में शर्करा (glucose) के कम हो रहे कम स्तर को महसूस करता है। इसका मतलब है कि डाइबिटीज के रोगियों को हल्दी (turmeric) का प्रयोग करने की इजाजत जरूर है, लेकिन सीमित मात्रा में। दालचीनी Diabetes को Control करने के लिए एक Perfect औषधि

सर्जरी होने पर (Avoid Haldi after Surgery in Hindi)

यदि आप किसी प्रकार की surgery से गुजरे हैं तो आपको हल्दी (turmeric) का प्रयोग बिल्कुल बंद कर देना चाहि‍ए क्योंकि हल्दी (turmeric) रक्त का थक्का जमने से रोकती है और इस वजह से surgery के दौरान या बाद में अतिरिक्त खून भी बह सकता है।

Image Source

और पढ़े

क्यों होता है सीने में दर्द

एप्पल साइडर विनेगर के फायदे

वजन घटाने के महत्वपूर्ण तरीके

रहस्य दिल को स्वस्थ रखने के

 

हमको आशा है के आपको हमारा ये पोस्ट Haldi ke Nuksaan in Hindi पसंद आया।
अपनी प्रतिक्रिया हमतक पोहुंचाय ।
धन्यवाद ।

Benefits of Peepal for Heart Blockage in Hindi

आयुर्वेद में प्रकृति के द्वारा हर समस्या का समाधान मौजूद है। हमारे आसपास प्रकृति में कई औषधियां छुपी हुई हैं, जिनके बारे में हम जानते ही नहीं है। हिंदू धर्म में पीपल के पेड़ को देवतुल्य मानकर उसकी पूजा की जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं, पीपल हृदय रोग के लिए वरदान है। Read Peepal ke fayde for Heart Blockage in Hindi (Benefits of peepal leaf for heart).


 Benefits of peepal leaf for heart

 peepal ke patte for heart pipal ke patte ka upyog

Peepal ke fayde for Heart Blockage in Hindi

दिल के आकार के इस पत्ते में हृदय संबंधी समस्याओं का हल छुपा हुआ है। सबसे खास बात यह है, कि पीपल दिल के 99 % blockage को भी समाप्त करता है। आइए जानते हैं हृदय से जुड़ी समस्या में कैसे करें पीपल का प्रयोग।

ह्दय संबंधी समस्याओ या heart attack हो जाने की स्थि‍ति में पीपल के पत्तों का काढ़ा बेहद लाभकारी सिद्ध होता है। आइए जानते हैं, इसे बनाने और पीने का तरीका।

  • सबसे पहले, 15 पीपल के पत्ते जो हरे, आकार में बड़े और पूरी तरह से विकसित हो उसे तोड़ लें।
  • इन सभी पत्तों के ऊपर व नीचे के भाग को कैंची से काटकर अलग कर दें।
  • अब पानी से पत्तों को धो लें और लगभग एक गिलास पानी में पत्तों को धीमी आंच पर पकाएं।
  • जब पानी उबलकर एक-तिहाई रह जाए, तब उसे ठंडा करके छान लें और fridge या अन्य किसी ठंडे स्थान पर रख दें।

 

कैसे करें सेवन (How to Have Peepal for Heart Disease) 

इस पानी को तीन भागों में बांट लें और हर तीन घंटे में इसका सेवन करें।

इस दवा का रोज़ सेवन करने से heart attack के बाद भी हृदय पहले की तरह स्वस्थ हो जाएगा और दोबारा दिल के दौरे की संभावना भी खत्म हो जाएगी। हृदय रोगियों के लिए यह एक अच्छा, सरल और सुलभ उपाय है, जिससे दिल के सभी प्रकार के रोग ठीक हो जाते हैं। इस काढ़े के सेवन से दिल मजबूत होता है और आप बेहद ठंडक और शांति महसूस करते हैं।

Image Source

कैसे बचे हार्ट ब्लॉकेज से

महिलायें रखे अपने दिल का ख्याल

चाय पीने के होते है कई नुकसान आइये जानते है

 

हमको आशा है के आपको हमारा ये पोस्ट Peepal ke fayde for Heart Blockage in Hindi पसंद आया।
अपनी प्रतिक्रिया हमतक पोहुंचाय ।
धन्यवाद ।

Benefits of Rice Water in Hindi

आपके घर में चावल जरूर बनते होंगे। पके हुए चावल तो आप खाते हैं, लेकिन आपने कभी चावल का पानी पिया है? सुनकर आपको अजीब लग रहा होगा, लेकिन पके हुए चावल का पानी पीना सेहत के लिए बहुत लाभदायक होता है। यदि आप यह नहीं जानते है, तो जरूर पढ़ें चावल का पानी पीने के यह बेमिसाल फायदे। Read Benefits of Rice Water in Hindi (Chawal ke Pani ke Fayde).

Rice Water Benefits in Hindi 

(Chawal ke Pani ke Fayde)

शरीर की ऊर्जा के लिए (Rice Water for Body Energy)

आप जब चावल पक जाने के बाद उन्हें निकालते हैं, तो बचा हुआ पानी फेंके नहीं, इस पानी को काम में लीजिए। यह शरीर के लिए ऊर्जा का बेहतरीन स्त्रोत है जो carbohydrate से भरपूर है। सुबह के समय इस पानी को पीना energy boost करने के बढ़ि‍या तरीका है।

 

कब्ज से राहत (Rice Water for Constipation)

चावल का पानी फाइबर से भरपूर होता है और आपके metabolism को बढ़ाने में मदद करता है। यह पाचन तंत्र को बेहतर कर पाचन क्रिया सुधारता है साथ ही अच्छे जीवाणुओं को सक्रिय भी  करता है, जिससे कब्ज की समस्या नहीं होती।

 

डायरिया (Rice Water for Diarrhea)

बच्चे हों या फिर बड़े, दोनों के लिए डायरिया (diarrhea) जैसी समस्या के लिए चावल का पानी बेहद फायदेमंद होता है। समस्या की शुरुआत में ही चावल के पानी का सेवन करना इसके गंभीर परिणामों से बचा सकता है।

 

बुखार (Rice Water for Fever)

अगर आप  Viral Infection या बुखार होने पर चावल के पानी का सेवन करते हैं, तो आपके शरीर में पानी की कमी नहीं होगी, साथ ही शरीर को आवश्यक पोषक तत्व भी मिलते रहेंगे जो Viral Infection या बुखार जल्दी ठीक करने में मदद करेंगे।

 

डिहाइड्रेशन (Rice Water for Dehydration)

शरीर में पानी की कमी डिहाइड्रेशन (dehydration) के रूप में सामने आती है। खास तौर से यह समस्या गर्मियों में अधि‍क होती है। चावल का पानी शरीर में पानी की कमी होने से बचाता है।

 

Image Source

सेंधा नमक के फायदे

चावल से खूबसूरती पाने के तरीके

खुलकर हंसने के फायदे

नींद नहीं आती है तो ये पौधे होंगे आपके लिए मददगार

 

हमको आशा है के आपको हमारा ये पोस्ट Chawal ke Paani ke Fayde पसंद आया।
अपनी प्रतिक्रिया हमतक पोहुंचाय ।
धन्यवाद ।

Health Benefits of Dates in Hindi

क्या आप जानते हैं,  खजूर और छुहारा एक ही पेड़ से उत्पन्न होते हैं। दोनों की ही तासीर गर्म होती है और दोनों ही शरीर को मजबूत बनाने में विशेष भूमिका निभाते हैं। छुहारे की तासीर गर्म होने के कारण सर्दियों में इसकी उपयोगिता और बढ़ जाती है। आइए जानते है छुहारे के अनूठे फायदे। Read Khajur Benefits in Hindi, Khajur  Chuhare ke fayde in Hindi

   Dates Benefits in Hindi

( Khajur Chuhare ke fayde in Hindi)

बिस्तर पर पेशाब (Date for Bed Wetting)

छुहारे खाने से पेशाब का रोग दूर हो जाता है। बुढ़ापे में बार-बार पेशाब आता हो तो, दिन में दो छुहारे खाने से लाभ मिलेगा। छुहारे वाला दूध भी काफी लाभकारी होते है। अगर बच्चा बिस्तर पर पेशाब करता हो तो उसे रात को छुहारे वाला दूध पिलाएं। यह शक्ति पहुचाता हैं।

मासिक धर्म (Date for Proper Mensuration)

छुहारे खाने से मासिक धर्म खुलकर आता है और कमर दर्द में भी आराम मिलता है।

हड्डिया और दांत (Date for Bone Decay)

छुहारे खाकर गर्म दूध पीने से calcium की कमी से होने वाले रोग, जैसे, हड्डियों का गलना, दांतों की कमजोरी इत्यादि रूक जाते हैं

ब्लड प्रेशर (Date for Blood Pressure)

जिनका ब्लड प्रेशर कम रहता है वह 3-4 खजूर को गर्म पानी में धोकर उनकी गुठली निकाल दें। फिर इसे गाय के गर्म दूध के साथ उबाल लें। इस उबले हुए दूध को सुबह-शाम पीएं। कुछ ही दिनों में कम ब्लड प्रेशर से छुटकारा मिल जाएगा।

कब्ज (Date for Constipation)

सुबह-शाम तीन छुहारे खाकर गर्म पानी पीने से कब्ज (constipation) दूर होती है। भोजन के साथ खजूर का अचार खाया जाए तो अजीर्ण रोग (indigestion problem) नहीं होते और मुंह का स्वाद भी ठीक रहता है। खजूर का अचार बनाना थोड़ा कठिन है, इसलिए बना-बनाया अचार ही ले लेना चाहिए।

डायबिटीज (Date for Diabetes)

डायबिटीज रोगी, जिनके लिए मिठाई, चीनी इत्यादि वर्जित है, वह सीमित मात्रा में खजूर के हलवे का सेवन कर सकते है। खजूर में वह अवगुण नहीं है, जो गन्ने से बनी चीनी में पाए जाते हैं।

पुराने घाव (Date for Old Wounds)

पुराने घावों को ठीक करने के लिए खजूर की गुठली को जलाकर उसका भस्म बना लें। घावों पर यह भस्म लगाने से घाव भर जाते हैं।

आंखों के रोग (Date for Eye Problem)

खजूर की गुठलियो का सुरमा आंखों में लगाने से आंखों के रोग दूर हो जाते हैं।

खांसी (Date for Cough

दिन में 2-3 बार छुहारो को घी में भूनकर सेवन करने से खांसी, जुकाम, छींक और बलगम में राहत मिलती है।

जुएं (Date for Lice

खजूर की गुठलियो को पानी में घिसकर सिर पर लगाने से जुएं मर जाती हैं।

Image Source

अंजीर के फायदें

एलोवेरा के बेशुमार फायदे

शिलाजीत के फायदे

पुदीने का सेवन स्वास्थ के लिए है फायदेमंद

लाल मिर्च है बड़े काम की चीज, जानिए कैसे

 

हमको आशा है के आपको हमारा ये पोस्ट Khajur Chuhare ke fayde in Hindi पसंद आया।
अपनी प्रतिक्रिया हमतक पोहुंचाय ।
धन्यवाद ।

Load More ...