Diabetes

Stevia For Diabetes Patients In Hindi

स्टेविआ (मीठी पत्ती) शक्कर का एक सही विकल्प है, इसके बारे में आप बहुत कम जानते है। यह आपके शरीर के लिए अनेक प्रकार से गुणकारी है, यह वजन कम करने में सहायक है, यहाँ इसके 8 प्रकार के लाभ बताये जा रहे है। Read about benefits of Stevia for Diabetes patients in hindi (Diabetes ke Patients ke liye stevia).

Diabetes ke Patients ke liye stevia

Stevia For Diabetes Patients In Hindi

(Diabetes ke Patients ke liye Stevia)

  • यह डायबिटीज रोगियों के लिए इसलिए भी अच्छा है क्योंकि यह रोगी का ब्लड शुगर लेवल स्थिर रखकर इन्सुलिन में वृद्धि करता है। यह शरीर में से ग्लुकोज का अवशोषण करके पित्ताशय को ठीक रखता है।
  • हाइपरटेंशन से ग्रस्त लोगों के लिए स्टेविआ बहुत उपयोगी है, यह ब्लड प्रेशर को कम करता है।
  • स्टेविआ में एन्टी पेक्टेरियल, एन्टी फंगल तत्व होते है। यह रूसी तथा मुहाँसो से लड़ने में सहायक है। यह रूखे सुखे तथा क्षतिग्रस्त बालो की मरम्मत करता है।
  • स्टीवा में स्टेविआ एसीड होता है जो झुर्रियों को खत्म करता है। यह सबिम का उत्पादन कम करती है।
  • स्टेविआ मुँह में से केविटी और जीवाणुओं को खत्म करता है।
  • अपने टुथपेस्ट में कुछ बूदे स्टेविआ की डाले तथा स्टेविआ माउथवॉश से रोज कुल्ला करे। स्टेविआ माउथ वॉश बनाने के लिए दो-तीन बूदे स्टेविआ की एक कप छोटे गरम पानी में मिलाएं तथा कुल्ला कर ले।
  • स्टेविआ में ही एक ग्लायकोसाइड होता है जो हृदय की जलन तथा अपच में सहायक है। इस पौधे में रेशा कार्बोहाइड्रेडथिक प्रोटीन तथा लोह होता है। ये सारे तत्व अपच को रोकते है।
  • स्टीवीआ वजन करके में अति-सहायक है। इसमें केलोरी नहीं होती है। कृत्रिम मिठाइयों की अपेक्षा इसका स्वाद उत्तम होता है तथा हर प्रकार से प्रयोग में लाया जा सकता है।
Image Source

Ways To Control Diabetes In Hindi

ऐलोपैथी दवाइयों के अनेक दुष्परिणाम हो सकते हैं किन्तु प्राकृतिक चिकित्सा के द्वारा डायबिटीज रोग का उपचार संभव है। आपको डायबिटीज रोग पर नियंत्रण के लिए प्राकृतिक चिकित्सा की जानकारी होनी चाहिए। Read about ways to control diabetes in Hindi (Diabetes Control Karne Ke Tarike).

Diabetes Control Karne Ke Tarike

Ways To Control Diabetes In Hindi

(Diabetes Control Karne Ke Tarike)

  • सही आहार न केवल ब्लड शुगर लेवल नियंत्रण में आता है बल्कि रोगी को विभिन्न प्रकार के जूस भी पीने की सलाह दी जाती है ताकि व्यवस्था सुधर जाये।
  • हाइड्रोथैरेपी व्यक्ति के रसायनों में सुधार करते है ताकि ब्लड शुगर पर नियंत्रण बना रहे तथा ग्लुकोज ग्रहण करने की शरीर की क्षमता को बढ़ाते है।
  • मडथेरेपी टॉक्सिन्स को साफ करता है तथा शरीर की स्वाभाविक प्रक्रिया पाचन तंत्र को ठीक रखता है।
  • योगा तथा आसन लिवर की पेनक्रियाज कार्यप्रणाली को ठीक करते है तथा पाचनतंत्र को सही रखते है।
  • डायबिटीज रोगी को जीवन शैली में बहुत अधिक परिवर्तन करना पड़ता है उन्हें कम कार्बोहाइड्रेड वाला भोजन करना चाहिए, इसके अतिरिक्त प्राकृतिक चिकित्सा की सलाह पर न केवल आहार लेना चाहिए बल्कि एक्सरसाइज भी करनी चाहिए।
  • आलू ब्लड शुगर  को बहुत बढ़ाता है। बहुत ज्यादा आलू खाने से आम इंसान को डाइबिटीस  होने की संभावना रहती है और अगर कोई पहले से हीं डाइबिटीस का मरीज है तो आलू खाने से उसकी हालत और बिगड़ती है ।
Image Source

Fruits For Diabetics In Hindi

मधुमेह रोगियों को फलो का रस नहीं पीना चाहिये क्‍योंकि एक तो इसमें चीनी डाली जाती है और दूसारा कि इसमें गूदा हटा दिया जाता है, जिससे शरीर को फाइबर नहीं मिल पाता। तो आइये जानते हैं कि मधुमेहर रोगियों को कौन-कौन से फलों का सेवन करना चाहिये। Read about fruits for diabetics in hindi (Diabetic Patients Ke Liye Fruits).

Diabetic Patients Ke Liye Fruits

Fruits For Diabetics In Hindi

(Diabetic Patients Ke Liye Fruits)

  • एक मध्ये आकर के सेब में कम कैलोरीज और ज्यादा फाइबर होते है, जो इसे डायबिटीज के रोगियों के लिए एक उत्तम फल बनता है।
  • पीच स्वादिष्ट तथा पोष्टिक होते है इनमें रेशा उच्च मात्रा में पाया जाता है G.I.(ग्लाइकेमिक इन्डेक्स)वेल्यु भी कम होती है। यह डायबिटीज रोगियों के लिए गुणकारी है।
  • आँवला न केवल ब्लड शुगर से ऑक्सीडेट को बचाता है ब्लिक इन्सुलिन में भी वृद्धि करता है।
  • पपीता विटामिन्स और मिनरल्ससे भरपूर होता है तथा इसमें शुगर की मात्रा कम होती है। यह डायबिटीज में अति-लाभकारी है।
  • जामुन ब्लड शुगर लेवल कम करता है तथा इन्सुलिन की मात्रा में वृद्धि करता है।
  • चेरी में I. वेल्युकम होती है यह ब्लड शुगर लेवल को ठीक रखने में सहायता करते है।

संतरे, नीबू, अंगूर तथा अन्य खट्टे-फल स्वाद की दृष्टि से उत्तम है तथा डायबिटीज से सुरक्षा भी प्रदान करते है। यह शरीर के शुगर लेवल को सामान्य रखते है।

Image Source

Symptoms Of Diabetes In Hindi

विश्व में 371 लाख लोग डायबिटीज से ग्रस्त है उनमें से आधे लोगों को तो ये भी नहीं पता कि उन्हें यह रोग है। यह महत्वपूर्ण है कि आपको डायबिटीज के लक्षणों की जानकारी हो, ताकि आप समय रहते इस रोग के बारे में जान जाएँ। Read about Symptoms of Diabetes in Hindi (Diabetes Hone ke Sanket).

Type-2-diabetes-mellitus-symptoms

Symptoms Of Diabetes In Hindi

(Diabetes Hone ke Sanket)

  • डायबिटीज रोग में ग्लुकोज का पाचन नहीं होता है। अतः उन्हें बार-बार भुख लगती है क्योकि उन्हें ग्लुकोज लेने की इच्छा होती है।
  • ब्लड में शुगर के बढ़ जाने से डायबिटीज रोगी को प्यास हर वक्त लगती है।
  • डिहाइड्रेशन तथा प्यास अधिक लगने के कारण डायबिटीज रोगी पानी अधिक पीते है तथा बार-बार पेशाब आता है।
  • डायबिटीज रोगी का शरीर ग्लुकोज का उपयोग करने में सक्षम नहीं हो पाता तथा अधिक फैट की खपत होती है। स्वास्थ्यवर्धक आहार और एक्सरसाइज के बिना ही शरीर का वजन कम हो जाता है।
  • डायबिटीज रोगियों का तनाव ग्रस्त रहना एक सामान्य लक्षण है यदि आप अत्यधिक थके हुए, तनावग्रस्त तथा प्यास का अनुभव करे तो अपने शुगर लेवल की जाँच करवाएं।
  • उच्च ग्लुकोज लेवल शरीर में स्नायु तंत्र को प्रभावित करता है।
  • ग्लुकोज की कमी के कारण शरीर की रोग प्रतिरोधक प्रणाली को नुकसान पहुँचाता है। डायबिटीज रोगी को त्वचा, जनन तंत्र तथा मूत्राशय संबंधित संक्रमण हो सकते है।
  • अत्यधिक ब्लड शुगर के कारण आँखों का आकार तथा लेंस भी परिवर्तित हो सकते है तथा रोगी को देखने में परेशानी हो सकती है।
  • डायबिटीज रोगी के शरीर पर कट लगना या चोट लगने पर घाव आसानी से नहीं भरता क्योंकि शरीर में ग्लुकोज का लेवल कम हो जाता है और रोग प्रतिरोधक प्रणाली खत्म हो जाती है।
Image Source

Weight Loss In Diabetes In Hindi

वजन नियंत्रित करने के लिए एक बार में बहुत सारा ना खाएं, ना ही बहुत ज्यादा देर तक खाली पेट रहें। बल्कि सही समय पर दवाईयां लें और थोड़ा-थोड़ा हर दो घंटे के अंतराल में खाएं। डायबिटीज रोगियों को ऐसे भोजन का सेवन करना चाहिए जिससे उन्हें प्रोटीन, कैल्शियम और अन्य पोषक तत्व तो मिलते रहें लेकिन शुगर लेवल नियंत्रित रहें। Read about Weight Loss In Diabetes In Hindi (Vajan Ghataye Diabetes ke Patients).

Vajan Ghataye Diabetes ke Patients

Weight Loss In Diabetes In Hindi

(Vajan Ghataye Diabetes ke Patients)

  • मोटापा डायबिटीज रोग में मुख्य भूमिका निभाता है।
  • यह इन्सुलिन को घटाता है जो अधिकतर लोगों में डायबिटीज का कारण बनता है।
  • आपके पेट पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है तथा उन अंगो को हानि पहुँचती है जो इन्सुलिन का निर्माण करती है।
  • यह ब्लड प्रेशर बढ़ाता है तथा साँस लेने में मुश्किल पैदा कर सकता है।
  • मोटापा कोलस्ट्रोल बढ़ाकर हार्ट अटैक की संभावना बढ़ा देता है।

आप इससे ऐसे बच सकते है:

वजन घटाने के लिए भोजन पर नियंत्रण करे तथा नियमित व्यायाम करे। डॉक्टर कहते है कि 10 प्रतिशत मोटापा कम करने से डायबिटीज रोग में बहुत सुधार हो सकता है। यदि आप मोटापे से ग्रस्त है तो रोज 30 मिनट पैदल चले। आप अपने व्यायाम की गति बढ़ाए। इसके अतिरिक्त कम फैट वालाभोजन करे। मिठाई, तली हुए चीजे, जंक फूड का त्याग करे। उपरोक्त सारे भोजन का एक साथ त्याग करने के स्थान पर एक-एक करके त्यागे। शीघ्र ही आप पोष्टिक एवं सही आहार लेना सीख जायेगे।

Image Source

How To Have Sugar In Diabetes In Hindi

डायबिटीज के दौरान सफेद चीनी, शहद, गुड़, केक, जैली, मुरब्बा, ठंडी मलाई, पेस्ट्री, डिब्बाबंद रस, चॉकलेट, क्रीम और कुकीज़ जिनमें शुगर की मात्रा अधिक हो को नजरअंदाज करना चाहिए। डायबिटीज के दौरान मौसमी फल खाना अच्छी बात है लेकिन बहुत से फल ऐसे है जिन्हें डायबिटीज के मरीजों को नहीं खाना चाहिए। जैसे- अंगुर, आम, सेब, स्ट्राबेरी, खरबूजा इत्यादि। Read about how to have sugar in diabetes in hindi (Diabetic Mein Metha Kaise Khaye).

Diabetic Mein Metha Kaise Khaye

How To Have Sugar In Diabetes In Hindi

(Diabetic Mein Metha Kaise Khaye)

  • शुगर लेवल सामान्य रखने के लिए दिन में थोड़ा-थोड़ा खाएं। स्नेक्स कम खाएँ।
  • वे खाद्य पदार्थ ले जिनमें ग्लाइकेमिक इन्डेक्स (GI) हो जिससे कि आपकी एनर्जी धीरे-धीरे खर्च हो। GI खाद्य पदार्थों में सब्जियाँ, मेवे, जो तथा ब्राउन राइस सम्मिलित है।
  • यदि आप को शक्कर से बने पदार्थो को खाने की इच्छा हो रही हो तो आप वनीला के सुगंधयुक्त परफ्युम का प्रयोग करे, वनीला एयर फ्रेशनर या वनीला की सुगंधयुक्त, मोमबत्ती जलाए।
  • 62 प्रतिशत लोग मध्य दोपहर में 23 बजे के आसपास कुछ न कुछ खाते है। रिसर्च ने यह भी सिद्ध किया है कि दोपहर में तनाव तथा बोरियत के कारण भी लोग दोपहर में कुछ न कुछ खाते है।
  • आप रंगबिरंगे सलाद, नाश्ते अनाज, मक्खन से युक्त स्वादिष्ट भोजन चुन सकते है। इससे आपको मीठा खाने की इच्छा नहीं होगी।
  • कार्बोहाइड्रड का सेवन करने से प्रसन्नता प्रदान करने वाले सेराटोनिन हारमोन में वृद्धि होते है, इसलिए जब हम प्रसन्न होते हैं तब हमें कुछ न कुछ खाने की इच्छा होती है।
  • मीठे खाने की इच्छा होने का एक कारण यह भी है कि हम एनर्जी की कमी महसुस करते है। एक्सरसाइज करके कम खोई हुई एनर्जी पुनः प्राप्त कर सकते है। नियमित व्यायाम एनर्जी में वृद्धि करता है।
  • मीठा खाने की लत से छुटकारा पाने के लिए आप पहले अपनी आदतों को पहचाने तथा उन चीजों से बचे जो एक आदत या लत बन चुकी है।
Image Source

Exercise In Diabetes In Hindi

ब्लड़ शुगर को सामान्य रखने के लिए केवल उचित आहार ही नही अपितु व्यायाम भी आवश्यक है। इससे मन प्रसन्नचित रहता है, फेफड़े उचित कार्य करते है। ब्लड का प्रवाह सही रहता है, कोलेस्ट्रोल लेवल कम होकर इसमें सुधार होता है तथा सम्पूर्ण शरीर सही कार्य करता है। जिम जाने से पहले कुछ दिशा-निर्देश दिए गए है जिनका आपको पालन करना चाहिए। Read about Benefits of exercise in diabetes in hindi (Diabetes Mein Regular Exercise).

Diabetes Mein Regular Exercise

Exercise In Diabetes In Hindi

(Diabetes Mein Regular Exercise)

  • एक्सरसाइज करने से पहले घर पर पहले अपना कोलेस्ट्रोल लेवल जाँच ले। यदि आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल उच्च या निम्न है तो एक्सरसाइज न करें।
  • स्नेक खाएं जैसे सेडविंच, जई इत्यादि।
  • एक्सरसाइज करने के तुरन्त बाद कुछ खाएं ताकि ब्लड़ शुगर लेवल कम नहीं हो।
  • डायबीटिज से बचने का या उस पर नियंत्रण रखने का एक्सरसाइज सबसे अच्छा उपाय है।
  • डांस करना भी बहुत हीं अच्छी एक्सरसाइज है। अगर आप अपनी मनपसंद गाने पर 20-30 मिनट रोजाना डांस करने का अभ्यास करते हैं तो इससे आपका तनाव भी दूर होगा तथा आपका शुगर लेवल भी कम होगा।

आप यह कर सकते है:

सप्ताह में 4-5 बार एक्सरसाइज अवश्य करे ताकि आपका ब्लड शुगर लेवल नियंत्रण में रहे।

  • आपातकाल की स्थिति में शुगर टेबलेट, ग्लुकोज पानी हमेशा अपने साथ रखे।
  • यदि गुर्दे, स्नायु, घाव या चोट जैसी कोई स्वास्थ्य समस्या है तो एक्सरसाइज न करे।
Image Source

Alternative Of Sugar In Hindi

हम शक्कर खाने कि इच्छा तब होती है जब हमारा शरीर संतुलित नहीं होता है, शक्कर के स्थान पर गन्ने का रस, शहद, सुखी खजूरे, राइजिन का सेवन कर सकते है। यहाँ उनके कुछ लाभ दिए जा रहे है। डायबिटीज रोगियों को डायबिटीज के दौरान सलाद और हरी सब्जियां खूब खानी चाहिए। इसके अलावा कुछ लोग सलाद को सजाने के लिए सॉस, मसाले और सोडियम युक्त इसी तरह की कुछ अन्य चीजों का इस्तेमाल करते हैं जो कि इनके लिए नुकसान दायक है। सलाद को बिना सजावट के खाना चाहिए। डायबिटीज के मरीजों को कार्बोहाइड्रेट्स युक्त सब्जियों का सेवन नहीं करना चाहिए। जैसे आलू, गाजर, सेम, मटर, और चुकंदर इत्यांदि। Read about alternative of Sugar in Hindi (Sugar Ke Vikalp Kya Hai).

sugar-main_1

Alternative Of Sugar In Hindi

(Sugar Ke Vikalp Kya Hai)

  • यद्यपि शक्कर गन्ने के रस से बनती है। किन्तु शक्कर बनते समय अनेक उपयोगी पोषक तत्व नष्ट हो जाते है।
    • गन्ने में विटामिन-बी, सी केलशियम, लोह तथा मेंगनीज की मात्रा होती है।
    • जो व्यक्ति एनीमिया और पीलिया रोग से ग्रस्त होते है उन्हें इसका सेवन अवश्य करना चाहिए।
  • गुड़ को औषधीय शक्कर भी कहते है। गुड़, शक्कर का उचित विकल्प है। यह उपयोग में बिल्कुल शक्कर की तरह होता है।
    • यह खांसी, कब्ज, अपच में बहुत लाभदायक है।
    • इसमें उच्च मात्रा में सॉल्ट पाएं जाते है।
  • यदि आपको मीठा खाना है तो आप अपनी आवश्यकता को अनेक फलो जैसे आम, संतरा, केला, गाजर, पपीता, सेब, तरबूज से पूरा कर सकते है।
    • इसमें प्राकृतिक शक्कर होती है।
    • ये आपका ब्लड शुगर लेवल नहीं बढ़ाते है।
Image Source

Cholesterol Check Up In Diabetics In Hindi

स्वस्थ सेहत के लिए आपके शरीर के कोलेस्ट्रॉल का नियंत्रण में रहना बहुत ज़रूरी होता है। कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए खाने को नियंत्रित करने और वर्कआउट करे हालाँकि बेड कोलेस्ट्रॉल की समस्या खराब खाने के कारण भी हो सकती है। मतलब अगर आप सही आहार नही लेंगे तो आप इस परेशानी से घिर सकते है। Read About Cholesterol Check Up In Diabetics In Hindi (Diabetes Mein Cholesterol Ki Janch).

Diabetes Mein Cholesterol Ki Janch

Cholesterol Check Up In Diabetics In Hindi

(Diabetes Mein Cholesterol Ki Janch)

  • यदि आप डायबिटीज रोगी है तो आप एल.डी.एल. जो कि कोलेस्ट्रॉल का सबसे खराब लेवल है, इसके बहुत करीब हो सकते है तथा यह हृदय रोग तथा ब्रेन स्ट्रोक का खतरा बढ़ा देता है।
  • उच्च कोलस्ट्रोल से डायबिटीज, डाइस्लीपीडेमिआ हो जाता है इससे एच.डी.एल. कोलेस्ट्राल में वृद्धि होती है।
  • डायबिटीज डाइस्लीवीडेमिआ बहुत खतरनाक है क्योंकि इससे धमनियां अवरूद्ध हो जाती है तथा हृदय रोग तथा परिसचरण संबंधित अनेक बिमारियाँ हो जाती है।

आप इससे कैसे बच सकते हैं:

अपने कोलेस्ट्रॉल लेवल को सही रखने के लिए आप स्वास्थ्यवर्धक आहार तथा नियमित एक्सरसाइज करे। फैट बढ़ाने वाले भोजन जैसे – मिठाइयाँ, तला हुआ भोजन, कोलेस्ट्रोल फ्री का लेवल दिखाने वाले भोज्य पदार्थ तथा जंक फूड आदि का त्याग करे। इसके स्थान पर मछली, मेथी, बेगन, ग्रीन-टी तथा ब्राउन राइस का प्रयोग करें।

Image Source

Replace Sugar with Dry Fruits in Hindi

यदि आप को खाने की अत्यधिक इच्छा हो तो सुखे मेवे स्वास्थ्य के लिए श्रेष्ठ विकल्प है। इनका प्रयोग आप सब्जि और दाल में डालकर भी कर सकते है। आप इन स्वास्थ्र्यवर्धक सुखे मेवों का भरपूर उपयोग कर सकते है। Read about Replace Sugar with Dry Fruits in Hindi (Shakker Ki Jageh Sukhe Meve Khaye).

Shakker Ki Jageh Sukhe Meve KhayeReplace Sugar with Dry Fruits in Hindi

(Shakker Ki Jageh Sukhe Meve Khaye)

  • सुखे मेवे गुणकारी है। इनमें खजूर, किशमिश, अंजीर तथा सुखा आलु बुखारा प्रमुख है।
  • खजूर पोटिशियम का उत्तम स्त्रोत है।
  • इसमें लोह, विटामिन-बी तथा रेशा होता है।
  • यदि आप इसका कच्चा सेवन नहीं कर सकते है तो खजूर की चटनी और सोस रूप में भी ले सकते है।
  • अंजीर में मौजूद रेशे मधुमेह रोगियों के शरीर में इंसुलिन के कार्य को बढावा देते हैं।
  • मेवो में खासकर बादाम एक हेल्‍दी ऑपशन है। यह फाइबर, विटामिन और पौष्‍टिक तत्‍वों से भरे होते हैं। इन्‍हें भूख लगने पर आराम से खाइये और बॉडी फैट बर्न कीजिये।

सुखे मेवे के स्वास्थ लाभ (Benefits Of Dry Fruits):

  • वे व्यक्ति जो अपने खाने को मीठा करना चाहते हैं वे शक्कर के स्थान पर इसमें किशमिश या अंगूर मिला सकते हैं।
  • यदि आपको पाचन संबंधी समस्या है तो आप सुखे अंजीर ले सकते है। यह अस्थमा, खाँसी तथा सर्दी में लाभदायक है।
  • सूखे आलु बुखारा में ग्लाइकेमिक इन्डेक्स होता है इसमें रेशा पाया जाता है, जो पाचन ठीक करने में सहायक है।
Image Source
Load More ...