Fitness

Morning Banana, यानि की सुबह के नाश्ते में केले और गर्म पानी को शामिल कर आप बेहतरीन फायदे पा सकते हैं। केले के साथ एक कप गर्म पानी का प्रयोग न केवल मोटापे को घटाता है बल्कि आपको सही आकार देने में बेहद मददगार साबित होता है। Read गर्म पानी से मोटापा करें कम Garm Pani Pine Ke Fayde

Banana and Warm Water for Weight Loss in Hindi

Banana and Warm Water for Weight Loss in Hindi

(Vajan Kam Karne ke Liye Kela aur Garam Pani)

यकीन मानिए starch और healthy carbohydrate के भरपूर यह diet दिनभर में शरीर पर चढ़ने वाले मोटापे को कम करने में आपकी सहायता करेगा। सुबह के नाश्ते में केले के साथ गर्म पानी का सेवन करने से आपका पेट काफी देर तक भरा रहेगा और उर्जा का स्तर भी बना रहेगा।

Morning banana पर किए गए अध्ययनों में इसके बेहतरीन फायदों को बताया गया है। जब हम इसका सेवन करना शुरू करते हैं तो सुबह के समय केला और गर्म पानी का यह नाश्ता लेना सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद साबित होता है।

केला न केवल metabolism को बढ़ाने में मदद करता है, बल्कि पाचन तंत्र को बेहतर कर पाचनक्रिया को सुधारने में भी सहायक है। इसके अलावा यह एक प्रकार के starch से भरपूर होता है, जिसमें Glycemic index की मात्रा बेहद कम होती है। साथ ही इसमें मौजूद fiber कब्ज (constipation) की समस्या से निजात दिलाता है और संतुष्ट‍ि देने के साथ ही carbohydrate के अतिरिक्त अवशोषण को रोकता है।

गर्म पानी के साथ केले का प्रयोग न केवल भरपूर ऊर्जा देगा बल्कि शरीर को hydrate कर oxygen का स्तर भी बढ़ाएगा। इसके बाद आप काफी तरोताजा महसूस करेंगे, वह अलग। ना तो इसमें आपको अतिरिक्त sugar लेनी होगी और ना ही अतिरिक्त calory, लेकिन इससे आप भरपूर ऊर्जा और सेहत भी पा सकते हैं। तो हुआ ना यह एक बेहतरीन नाश्ता (breakfast)।  तो आप कब शुरू कर रहे हैं, Morning Banana?

Image Source

राइट डाइट प्लान वजन घटाने के लिए

फ़ास्ट फ़ूड के साथ कैलोरीज कम करे

आपका हमारा रसोईघर ही है प्राथमिक चिकित्सालय

Yoga for Urinary Incontinence in Hindi

आज के दौर में पुरुषों एवं महिलाओं में कई तरह के मूत्र सम्बन्धी समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं। इन परेशानियों से निजात पाने के लिए कुछ लोग पारंपरिक दवाएं लेते हैं तो कुछ लोग घरलू उपचार को अपनाते हैं। मूत्र असंयमिता (urinary incontinence), महिलाओं में पायी जाने वाली एक आम समस्या बन चुकी है, जो हर उम्र की महिलाओं में देखने को मिलती है। बदलती हुई जीवन शैली का कारण 20 से 39 वर्ष की आयु वाली महिलाएं भी इससे प्रभावित हैं। Read about Yoga for Urinary Incontinence in Hindi (Moothra Asiyamita ke Liye Yogaasan).

Yoga for Urinary Incontinence in HindiYoga for Urinary Incontinence in Hindi

(Moothra Asiyamita ke Liye Yogaasan)

लेकिन इस का प्राकृतिक और योग के माध्यम से इलाज भी किया जा सकता है। कई वर्षों से लोग योग के माध्यम से मूत्राशय को स्वस्थ रखते आ रहे हैं। यह 100 वर्षों से भी अधिक पुरानी योग पद्धति साबित कर चुकी है।

 

मूत्र असंयमिता के लिए योग के प्रकार (Yoga for Urinary Incontinence)

मूल बन्ध (Moolbandh Aasan for Urinary Incontinence)

योग के प्राचीन रहस्यों में से एक मूल बन्ध है। इसे सिर्फ उचित तकनीक और अभ्यास के द्वारा ही सीखा जा सकता है। यह तकनीक प्राचीन काल की गुरु-शिष्य परंपरा के माध्यम से लोगो तक पहुँचती आ रही है। मूल बन्ध आसन में  वायु को ऊपर की ओर खींच कर रोक लिया जाता है और मलाशय को अन्दर की तरफ खींचकर बन्ध लगाया जाता है।

 

मूलबंध के चरण (Steps of Moolbandh Aasan for Urinary Incontinence)

Step 1: पेसाब करने के लिये जाएँ और इसे बीच में ही किसी तरह रोक लें।

Step 2 : किसी शांत जगह पर सुखासन में बैठें, ध्यान रखियेगा की रीढ़ की हड्डी सीधी रहे।

Step 3 : पूरे pelvic flour को सिकोड़ें और साथ ही गुदा (anus) को भी अन्दर की ओर खींचे।

Step 4 : 3 second के लिए मूलाधार चक्र की ऊर्जा पर अपना ध्यान केन्द्रित करें।

Step 5 : सभी मासपेशियो को ढीला छोड़े और फिर दोबारा 3, 4 और 5 step को 10 बार दोहरायें।

Image Source

Yogasana For Female Problems In Hindi

पीरियड्स के दौरान व्यायाम करना तब तक आपके लिए सुरक्षित है जब तक आप बहुत अधिक मेहनत वाला काम नहीं करते। यह न केवल सुरक्षित है बल्कि ऐसा माना जाता  है कि इसके कारण P.M.S.  के लक्षण कम हो जाते हैं तथा पीरियड्स  के दौरान होने वाले दर्द से भी राहत मिलती है। पीरियड्स  के दौरान प्रत्येक महिला के दर्द और असुविधा का अलग अलग स्तर होता है, अत: प्रत्येक महिला को उतना ही व्यायाम करना चाहिए जितना वह सहन कर सकती है। Read about yogasana for female problems in hindi (Female Problems Ke Liye Yogasana).

Female Problems Ke Liye Yogasana

Yogasana For Female Problems In Hindi

(Female Problems Ke Liye Yogasana)

पीरियड्स के दिनों में निम्न योगिक क्रियाएं करनी चाहिए (Yogasan for Periods)

  • मकरासन या क्रोकोडाइल पोज़
  • योगेन्द्र प्राणायाम 4
  • यस्तिकासन या स्टिक पोज़
  • शवासन या शव पोज़

एब्डोमिनल मसल्स को सुद्रढ़ करने के लिए हस्तपादासन और योगेन्द्र प्राणायाम 4 की चारों प्रक्रियाएं करनी चाहिए।

दो पीरियड्स के बीच हो रही ब्लीडिंग को रोकने के लिए आसन के सुझाव

  • प्राणायाम से फायदा होता है।
  • जब ब्लीडिंग न हो रही हो तब भद्रासन या तितली पोज़ नियमित रूप से करने पर पेल्विक मसल्स सुद्रढ़ होती हैं।

P.C.O. से पीड़ित के लिए मुद्रा, आसन, क्रिया और प्राणायाम के सुझाव (Yogasan For PCOS)

  • सर्वप्रथम हमें अपनी जीवन शैली बदलनी होगी।
  • हमें एक्टिव बनना होगा।
  • हर दो घंटे में उठकर हमें चहलकदमी करनी होगी।
  • दिमाग को शांत रखते हुए आराम प्रदान करने वाली तकनीक जैसे योग करना और ध्यान लगाना होगा।
Image Source

Tips To Complete Weight Loss Resolution In Hindi

बदलते वक्त में सब कुछ बदल गया है। पहले जो लोग मोटे होते थे वो खुद को खुशनसीब मानते थे। उन्हे लगता था की वो खाते पीते घर के है और बहुत स्वस्थ है। लेकिन आज के दौर में हर कोई स्लिम ट्रिम और फिट रहना चाहता है। Read tips to complete weight loss resolution in hindi (Weight Loss Resolution Kaise Pura Kare).

Weight Loss Resolution Kaise Pura Kare

Tips To Complete Weight Loss Resolution In Hindi

(Weight Loss Resolution Kaise Pura Kare)

  • हमें केवल नैतिक समर्थन की ही आवश्यकता नहीं है बल्कि इस सोच की आवश्यकता है कि कोई आपके ही जितना कठोर प्रयास कर रहा है। यह वास्तव में आपकी दिनचर्या को बनाये रखने में सहायक हो सकता है।
  • अगर आप अपने आप से वादा करें कि यदि आप अगले एक सप्ताह में 2 किलोग्राम वजन कम कर लेते है तो आप एक लिपिस्टिक या जो भी आपको पसंद हो वो खरीद सकते है।
  • अपने वजन के प्रति महत्त्वाकांक्षी होना अच्छी बात है लेकिन शुरू में अपने लक्ष्य को ऐसा रखें की हासिल किया जा सके- इस तरीके से आपकी दिनचर्या ज्यादा चुनौतीपूर्ण नहीं लगेगी।
  • आपने प्रतिदिन एक घण्टा घुमने का तय किया है तो इसका मतलब यह नहीं है कि आपको रोज घूमना ही है। किसी के लिए भी यह बोरिंग दिनचर्या हो सकती है जिसे आप छोड़ना चाहेंगे। इसलिए डांस, स्किप, साईकिल या तैरना आदि अलग-अलग चीजें भी शामिल कर सकते है।
  • वजन घटाने का मतलब है कि सबसे पसन्दीदा चीजों से दूर रहना – चीज, चोकलेट्स, मिठाई, तले हुए खाद्य पदार्थ और यह सबसे मुश्किल काम है
  • एक दिन तो आप मिठाई खाएं और अगले दिन भूखे रहे। इससे कोई लाभ नहीं होता है।
  • यदि आपका लंच आपकी सोच से ज्यादा भारी होता है तो डिनर में हल्का लेना चाहिए।
  • खाने के साथ तले हुए पापड़ के बजाए इसे सेककर खाएं। रोटी पर घी या बटर को कम लगाये है। एक बार में एक चीज बंद करें – यह एक बार में ही सभी चीजें बंद करने से ज्यादा आसान होता है।
  • जब आप अपने लक्ष्यों की घोषणा करते है तो आप पर लक्ष्यों को पाने का ज्यादा प्रेशर रहता है- यह एक ट्रिक है जिसे कई लोग अपनी कार्य योजना पर बने रहने के लिए उपयोग करते है।
  • हम सभी के पास कोई एक प्रसिद्ध व्यक्ति है जिसके तरह हम दिखना चाहते है और भी बहुत है जो ज्यादा वजन से फिट हुए है। उनके बारें में पढ़े और उनके फिटनेस का राज जानें।
Image Source

Tips To Have Alcohol In Hindi

कई बार ड्रिंक्स के लिए मना करना मुश्किल हो जाता है, ये ऑफिस पार्टी या किसी दोस्त की शादी में हो सकता है। यहाँ पर कैलोरी इन्टेक को न्यूनतम करने के तरीके दिए जा रहे हैं। Read tips to have alcohol in hindi (sharab pee kar vajan na badhne ke tips).

Sharab Pee Kar Vajan Na Badhne Ke Tips

Tips To Have Alcohol In Hindi

(Sharab Pee Kar Vajan Na Badhne Ke Tips)

  • पुरुषों को प्रतिदिन 3-4 यूनिट से ज्यादा नहीं पीना चाहिए एवं महिलाओं के लिए 2-3 यूनिट का स्टैण्डर्ड होना चाहिए।
  • हर एक ड्रिंक के बाद एक गिलास पानी पीयें। इससे आप डिहाइड्रेशन से बचे रहेंगे।
  • शराब पीने के पहले कुछ हेल्दी चीज़ खाना श्रेयस्कर होगा। यदि आप पीने के साथ-साथ खाना चाहते हैं तो भी कुछ हेल्दी खाएं। चिप्स या फ्राइज के बजाये के नमक वाली मूंगफली खाएं।
  • कोई मित्र पीने में प्रतिस्पर्धा करने कहे तो ऐसा करने से बचें। अपने तरीके से ही पीयें।
  • मित्रों की मदद से शराब कम करने का प्रयास करें, इस प्रकार मानसिक सपोर्ट आपको शराब कम करने में मदद देगा।
  • छोटे छोटे घूँट लें ताकि सामान्य गति बनी रहे। इस तरीके से आप कम पीयेंगे और अपने साथ पीने वालों से मुकाबला नहीं रहेगा।
  • अगर आप पूरे हफ्ते न पी पाएं तो छुट्टी के दिन भरपाई करने के हिसाब से ना पीयें। ध्यान रखें कि एक दिन में आपका शरीर एक ही दिन के हिसाब से सेहन कर सकता है।

Tips To Reduce Weight In Hindi

वॉक वैसे तो कार्डियो एक्सरसाइज का हिस्सा है, हम लोग वजन कम करने के लिए वॉक करना पसंद करते हैं। मगर ज़रा रुकिए और सोचिये- क्या आपका वॉक करने का तरीका वजन कम कर रहा है? यहाँ कुछ ध्यान देने योग्य बातें बताई जा रही हैं। Read tips to reduce weight in hindi (Vajan Kam Karne Ke Tarike).

Vajan Kam Karne Ke Tarike

Tips To Reduce Weight In Hindi

(Vajan Kam Karne Ke Tarike)

  • छोटे कदम लीजिये चाहें तो अपनी गति बढ़ा लें। सामान्य गति रखते हुए भी आप आधे से एक घंटे कि वॉक कर सकते हैं।
  • जितना ज्यादा वॉक करेंगे उतना ही वर्क-आउट बेहतर होगा। प्रतिदिन आधे किलोमीटर की दूरी बढायें-ये बहुत ही आसान है।
  • वॉक करने से पहले स्ट्रेच करके मसल्स को ढीला कर लें, सिर्फ पैरों की ही नहीं बल्कि संपूर्ण शरीर की। ऐसा करने से अगले दिन दर्द भी नहीं होता।
  • टहलें नहीं। सिर्फ इतना तेज़ चलें कि आप बात कर सकें किन्तु सांस लेना सामान्य के मुकाबले थोड़ा मुश्किल हो।
  • रोबोट की तरह ना चलें, कंधे सामान्य तरीके से हिलने दें, हाथों को भी कड़क ना रखें, कुदरती तौर पर हिलने दें, कुहनियाँ शरीर के पास होनी चाहिए।
  • अगर आप एक्सरसाइज शुरू करने जा रहे हैं, तो आपको क्या खाना है, ख़ास तौर पर कैलोरीज के बारे में ध्यान रखें। महिलाओं के लिए 1200 कैलोरीज एवं पुरुषों और एक्टिव महिलाओं के लिए 1500-1600 कैलोरीज तक मान्य हैं।
  • किसी डिजिटल मशीन के द्वारा अपने प्रोग्रेस को ट्रैक करें कि आपने कितनी सफलता हासिल करें।
  • अपने वॉक के तरीके में कुछ भिन्नता लायें जैसे कि एक दिन धीमे धीमे दूर तक जाएँ तो अगले दिन कम दूरी पर तेज़ चलकर जाएँ। इससे आप बोर नहीं होंगे।
  • आज आपने लम्बी वॉक करी और ज़ाहिर सी बात है कि आप को भूख लगी होगी और शायद आप दो लोगों के बराबर का भोजन खा सकें किन्तु ऐसा भूल कर भी ना करें।
Image Source

How Alcohol Increases Weight In Hindi

शराब पीने से वेट-लोस प्रोग्राम में खलल पड़ता है। आप कम शराब पीतें हों तो भी अक्सर पीने से वजन बढ़ता है, क्योंकि शराब में बहुत ज्यादा मात्रा में कैलोरीज होती हैं। शराब जैसे पेयों से पोषण तो मिलता ही नहीं है, इसकी वजह से भूख बढ़ना और अस्वस्थ भोजन खाना भी बढ़ जाता है। शराब न पीकर या कम पीकर ही वजन को नियंत्रित एवं सही तरीके से मेन्टेन किया जा सकता है। Read about how alcohol increases weight in hindi (Sharab se Vajan Badhta Hai).

How Alcohol Increases Weight In Hindi

How Alcohol Increases Weight In Hindi

(Sharab se Vajan Badhta Hai)

  • शराब में आपकी कल्पना से ज्यादा कैलोरीज होती हैं–
    • 30 मि.ली. (एक छोटा पेग) व्हिस्की में 111 कैलोरीज होती हैं!
    • वोडका के छोटे पेग में 55 कैलोरीज होती हैं और
    • लाइट बियर (650 मि.ली.) में 208 कैलोरीज होती हैं।
  • हालांकि शराब में जंक फ़ूड की तरह ज्यादा कैलोरीज नहीं होती किन्तु ये भी मायने रखती हैं।
  • जब हम शराब पीते हैं तो हमारा शरीर इसे जहर मान बाहर निकालने की कोशिश करता है। हमारा शरीर इनसे मुक्ति पाने के लिए इन्हें जलाना शुरू करते हुए शरीर के लिए आवश्यक ईंधन बनाता है।
  • सिर्फ डेढ़ गिलास शराब के बाद ही आपके शरीर की फैट बर्निंग क्षमता सामान्य से 75% कम हो जाती है। ऊर्जा के लिए कार्बोहाइड्रेट का उपयोग करना भी बंद हो जाता है और शरीर पर वजन की परतें बढती जाती हैं।
  • इससे पानी कमी होती है और डिहाइड्रेशन होता है। पानी के साथ-साथ मिनरल भी ख़त्म हो जाते हैं।
  • शराब से आपको नींद तो आ जायेगी किन्तु वह स्वाभाविक नींद नहीं होगी जिसकी वजह से आप अगले दिन बहुत ज्यादा आलस और थकावट महसूस करेंगे। इसी वजह से आप ज्यादा कैलोरी वाला खाना खाने से अपने आप को रोक भी नहीं पायेंगे
  • शराब से हमारी अवरोध शक्ति पर असर पड़ता है और इस कारण से वे सभी लज़ीज़ कुरकुरे स्नैक्स हमारे वजन को बढ़ा देते हैं।
  • शराब भूख बढ़ा देती है।
  • खाने के पहले और खाने के दौरान शराब पीने से सोचने समझने की शक्ति कम हो जाती है। इस स्थिति में आप ख़ास तौर पर फ्राइड और फैटी चीज़ें ज्यादा खाने लगते हैं।
Image Source

Tips To Reduce Belly Fat In Hindi

अगर आपकी लगातार कोशिश भी वजन कम करने में नाकाम हो रही है तो यहाँ कुछ साधारण और प्रैक्टिकल टिप्स दिए जा रहे हैं। आपको सिर्फ इन तरीकों को 20 दिन तक बिना रुके नियमित रूप से करना होगा और फिर आपको असली परिणाम नजर आने लगेंगे। Read tips to reduce belly fat in Hindi (Belly Fat Kam Karne ke Tarike).

Belly Fat Kam Karne ke Tarike

Tips To Reduce Belly Fat In Hindi

(Belly Fat Kam Karne ke Tarike)

  1. आप तीन महीने में 10 किलो तक वजन कम करना चाहते है, या फिर पेट कम करना चाहते है, या अपनी स्फूर्ति बढ़ाना चाहते है, तो यह सब कुछ पहले एक डायरी में नोट करले।
  2. उपयोग से ज्यादा कैलोरीज बर्न करना जरूरी होता है। 5 कि.मी. प्रति घंटे की रफ़्तार से की गई तेज़ वॉक जहां सिर्फ 145 कैलोरीज बर्न करती है वहीँ मैक डोनाल्ड के एक बर्गर से 465 कैलोरीज मिलती हैं।
  3. शक्कर की जगह स्टेविया या मीठी पत्ती काम में लें सकते है। यह ब्लड शुगर भी कम करने में मदद करते है और डायबिटीज से भी बचने में सहायक है।
  4. ब्राउन राइस में कैलोरीज कम होती हैं और ज्यादा फाइबर होने की वजह से इसे खाने के बाद ज्यादा समय तक पेट भरा रहता है।
  5. भूखे रहने के बजाये “नेगेटिव-कैलोरी फ़ूड” खाएं जिसमे कैलोरीज नहीं के बराबर होती हैं।
  6. फ्राइड के बजाएं हमें बेक्ड खाना चाहिए। या फिर एयर-फ्रायर का इस्तेमाल करना चाहिए।
  7. अल्कोहल और ज्यादा शक्कर वाली मॉकटेल्स से भी दूरी बनायें। ताज़ा नीम्बू पानी या नीम्बू सोडा बिना शक्कर के पीना ज्यादा सही रहेगा।
  8. सुबह ब्रेकफास्ट के पहले एक फल खाएं, फिर मिड-मोर्निंग स्नैक्स खाने की जगह एक फल और खाएं। फिर दोपहर में लंच करने से पहले ताज़ी सब्जियों वाला सलाद खाएं। शाम को फिर एक और फल खाएं। रात को एक बाउल भरके वेजिटेबल सूप लें या एकदम कम तेल में बनी हुई सब्जियां लें, या फिर सलाद खाएं।
  9. सोने के बीच कम वक़्त होता है, इसका असर हमारी पाचन शक्ति पर पड़ता है और हमारी वजन घटाने की प्लानिंग बिगड़ जाती है।
  10. नमक आपके वेट-लॉस प्लान के लिए घातक है और इससे वाटर-रिटेंशन और ब्लोटिंग(शरीर फूलना या सूजना) जैसी तकलीफें होती हैं। इसलिए ऐसी चीज़ों से दूरी बनाएं।
  11. आपको ही हेल्दी-रेसिपीज बनाना सीख लेना चाहिए। न सिर्फ आप हेल्दी खाना बनाना सीख जायेंगे बल्कि वजन भी कम होगा और क्या खाना है इस बारे में आप कॉनशिअस भी हो जायेंगे और यह आपके और आपके परिवार के लिए भी फायदेमंद होगा।
  12. मसालों में मेटाबोलिज्म बढ़ाने वाले गुण होते हैं। काली मिर्च, लाल मिर्च, जीरा, हल्दी, राई सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाते बल्कि वजन कम करने में भी मदद करते हैं।
  13. ड्राई फ्फ्रूट्स जैसे बादाम, पिश्ता और अखरोट में गुड-फैट्स होते हैं जो संपूर्ण सेहत सुधारते हुए वजन भी कम करते हैं।
  14. रेड मीट की जगह चिकन खाएं। इसमें प्रोटीन बहुत होता हैं और इससे पेट काफी देर तक भरा रहता है।
  15. अक्सर जब हम “भूखे” होते हैं तो हमें असल में प्यास लगी होती है और हमारे शरीर को बस कुछ चाहिए होता है। इसके लिए पानी पीकर उस “भूख” को मिटाया जा सकता है।
  16. अपनी दिनचर्या की शुरुआत एक्सरसाइज या जॉगिंग से होनी चाहिए। रात को अच्छी नींद लेने के बाद सुबह सुबह हम स्वच्छ और ऊर्जावान महसूस करते है इसलिए वर्क-आउट के लिए सुबह का समय सबसे अच्छा होता है।
  17. बहुत से लोग वजन कम करने के लिए ब्रेकफास्ट छोड़ देते हैं। पर ये अनुचित कदम है।
  18. योग, एरोबिक्स, वेट ट्रेनिंग, तैरना, ज़ूम्बा या कुछ और भी किया जा सकता है। वजन कम करने की बुनियाद है 45 मिनट की एक्सरसाइज।
  19. इससे आपकी मसल्स गठित होंगी और आपका मेटाबोलिज्म बढ़ेगा जो आपके शरीर को फैट-बर्निंग-मशीन बना देगा।
  20. रोज़ रोज़ जिम ना जाएँ। कभी डांस क्लास, कभी जॉगिंग, कभी मार्शल आर्ट्स अपनाने से भी आपके शरीर का फैट कम होगा।
Image Source

How To Swim For Weight Loss In Hindi

सबसे पहले इस बात को समझना बहुत ज़रूरी है की स्विमिंग केवल पानी में हाथ पैर चलाना के लिए नहीं है। ये एक तरीका है, जिसे बेहतर तरीके से करना ज़रूरी होता है। स्विमिंग करने से आप लगभग 90 से 550 कैलोरी को कम कर सकते हैं। लेकिन ये आपके वजन और आपके परिश्रम पर निर्भर करता है। हालांकि आप ज्यादा मेहनत करके कैलोरी बर्न करने के संख्या को बढ़ा सकते हैं। Read how to swim for weight loss in hindi (Weight Loss Ke Liye Kaise Swim Kare).

Weight Loss Ke Liye Kaise Swim Kare

How To Swim For Weight Loss In Hindi

(Weight Loss Ke Liye Kaise Swim Kare)

  • स्विमिंग करने के लिए सही कपड़े चुनें। तैरने के लिए कॉस्टयूम में आप सहज महसूस करते है और गॉगल्स ले जाना ना भूलें।
  • आप अपनी पानी की बोतल ज़रूर साथ लेकर जाये। प्रैक्टिस के बीच बीच में पानी पीते रहना बहुत ज़रूरी है। जब आप पूल में स्विमिंग ना कर रहे हो तो तब भी खूब पानी पीयें। तैरते समय क्लोरीन युक्त पानी पेट में चला जाता है और उसको फ्लश आउट करने के लिए साफ़ पानी पीना बहुत जरूरी है।
  • पूल में उतरने से पहले एक बार साधारण पानी से स्नान करें ताकि पानी में गन्दगी ना जाए और बहार निकलने के बाद भी स्नान करें जिससे पानी में मौजूद क्लोरीन आपकी त्वचा से हट जाए।
  • स्विमिंग करने से पहले हल्का भोजन खाएं और बाद में ऑयली भोजन से दूर रहें खास तौर पर जब आप वज़न घटाने का सोच रहे हों। अगर आपके पेट में तैरते समय पानी में मौजूद क्लोरीन चला जाये तो ऑयली खाना खाने से आपको अपच और पेट फूलने जैसी समस्या हो सकती हैं।
  • पूल में जाने से पहले स्ट्रेच करने वाली एक्सरसाइज ज़रूर करनी चाहिए।
Image Source

Exercise And No Weight Loss In Hindi

अगर आप वज़न कम करने के लिए सख्त हेल्दी डाइट और फिटनेस प्लान का पालन करने बावजूद भी सही परिणाम नहीं पा रहे है, तो वक़्त आ गया है कि आपकी सफलता में बाधक कारण पता किये जाएँ। Read resons of no weight loss after exercise in hindi (Exercise Se Vajan Kam Na Hone Ke Karan).

Exercise Se Vajan Kam Na Hone Ke Karan

No Weight Loss After Exercise In Hindi

(Exercise Se Vajan Kam Na Hone Ke Karan)

  • हम अंदाजा लगा सकते हैं कि हमने बहुत सारी कैलोरीज बर्न करी हैं और इस चक्कर में जितनी कैलोरी कम नहीं हुई होती है उससे ज्यादा तो हम खा कर अपने अन्दर बढ़ा लेते हैं और इससे वजन ज्यादा बढ़ता है।
  • आप सोचते हैं कि नींद में कमी कर वर्कआउट के लिए समय निकालना सेहत और फिटनेस के लिए अच्छा होता है लेकिन ऐसा नही है भरपूर नींद न लेने से एक्सरसाइज का पूर्ण फायदा नहीं मिल पाता और नतीजा वज़न बढ़ता जाताहै।
  • हम यूँ तो जानते हैं कि कैलोरी की को घटाने का काम एल्कोहल है, पर हमें फ्रूट जूस, स्मूदी, सॉफ्ट ड्रिंक्स और हॉट ड्रिंक्स का उपयोग करने से कैलोरीज की मात्रा बढ़ जाती है इसलिए हमे इन पर भी ध्यान देना चाहिए है।
  • अगर आप कम फैट वाले स्वस्थ भोजन ले रहे हैं और फिर भी आपका वज़न कम नहीं हो रहा है, तो भोजन की मात्रा पर ध्यान देना जरूरी है। आप शायद यह सोचते होंगे कि आप दिन में सिर्फ 3 बार खाते हैं, परन्तु सच तो यह है कि यह 6 बार के खाने के बराबर होती है।
  • हमारा शरीर प्राकृतिक तौर पर अपनी रक्षा करता है इसलिए जब हम इसे भरपूर भोजन नहीं दे पाते है तो ये स्वयं भूखे रहने की प्रक्रिया अपनाते हुए मेटाबोलिज्म को कम करना शुरू कर देता है और इसमें फैट्स और कैलोरीज भी इकठ्ठा होना शुरू हो जाते हैं।
  • अगर आप फैट डाइट्स को बिलकुल बंद करके एक तरफ तो सोचा जाये तो बिलकुल भूखा रहना है और दूसरे पल ही ढेर सारा खाने खाया जाये तो यह आपके मेटाबोलिज्म से खिलवाड़ करना होगा और आपके शरीर में ज्यादा फैट जमा होने लग जाएगा।
  • अगर आप एक जैसा वर्क-आउट रूटीन रखते हैं तो यह बहुत बोरिंग हो जाता है और आप इसे ना करने के बहाने भी ढूँढने लगते हैं, आपको इसका सही फल भी नहीं मिलता।
  • बहुत से लोगों को वज़न कम करने की सख्त ज़रूरत है किन्तु आपको भी हो यह ज़रूरी नहीं। अपने शरीर को अवास्तविक सा आकार देने की बजाये अपने डॉक्टर से सलाह लें कि क्या आपके लिए वजन घटाना ज़रूरी है?
  • कुछ तकलीफें जैसे पॉली सिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पी.सी.ओ.), थाइरोइड और हारमोन में असंतुलन वज़न बढ़ा देती हैं, जिसे कम करना लगभग असंभव सा होता है। साथ ही, खाने से सम्बंधित एलर्जी जिसके बारे में आप अनजान हैं, यह भी वजन कम करना मुश्किल बना देती है।
Image Source
Load More ...